WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Mukhyamantri Kanyadan Yojana: बेटियों की शादी के लिए 51,000 रुपये! जानिए मुख्यमंत्री कन्यादान योजना

Mukhyamantri Kanyadan Yojana मुख्यमंत्री कन्यादान योजना राजस्थान सरकार द्वारा आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्गों को उनकी बेटियों की शादी में सहायता करके सशक्त बनाने के लिए शुरू की गई एक परिवर्तनकारी पहल है।

Mukhyamantri Kanyadan Yojana
Mukhyamantri Kanyadan Yojana

इस योजना के तहत, पात्र परिवारों को विवाह के खर्चों का बोझ कम करने के लिए ₹51,000 तक की वित्तीय सहायता मिलती है, जिससे यह सुनिश्चित होता है कि योग्य लड़कियों की वैवाहिक यात्रा में कोई वित्तीय बाधा न आए।

मुख्यमंत्री कन्यादमन योजना का उद्देश्य

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना का प्राथमिक उद्देश्य लड़कियों और उनके परिवारों को वित्तीय सहायता प्रदान करना है, जिससे उन्हें आर्थिक रूप से मजबूत बनाया जा सके राजस्थान सरकार के सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग द्वारा शुरू की गई इस योजना का उद्देश्य विवाह से जुड़े किसी भी वित्तीय बोझ को कम करना और हाशिए पर पड़े समुदायों के बीच सामाजिक न्याय को बढ़ावा देना है।

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के लिए पात्रता मानदंड

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में कई श्रेणियों को शामिल किया गया है, जिसमें अनुसूचित जाति (एससी), अनुसूचित जनजाति (एसटी), अन्य श्रेणियों के गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) परिवार, अंत्योदय परिवार, आशा कार्डधारक, आर्थिक रूप से कमजोर विधवाएं, विशेष प्रतिभा वाले दिव्यांग व्यक्ति, पालनहार योजना के लाभार्थी और महिला एथलीट शामिल हैं।

योग्य होने के लिए, आवेदक राजस्थान का निवासी होना चाहिए, उसकी आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए, और उसे अधिकतम दो बेटियों की शादी के लिए सहायता लेनी चाहिए परिवार की वार्षिक आय ₹2.50 लाख से अधिक नहीं होनी चाहिए।

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना द्वारा प्रदान किए जाने वाले लाभ

राजस्थान राज्य सरकार उन पात्र परिवारों को वित्तीय सहायता प्रदान करती है जो अपनी बेटियों की शादी का खर्च वहन करने में असमर्थ हैं योग्य लड़कियों को उनकी शादी के समय ₹31,000 से ₹41,000 तक की सहायता मिलती है इसके अलावा, जिन लड़कियों ने 10वीं कक्षा पूरी कर ली है उन्हें ₹41,000 मिलते हैं, जबकि स्नातक करने वाली लड़कियों को ₹51,000 मिलते हैं।

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदकों को आवश्यक दस्तावेज प्रस्तुत करने होंगे, जिनमें आधार कार्ड, जन आधार कार्ड, निवास प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, बैंक खाता विवरण, बीपीएल कार्ड या अंत्योदय प्रमाण पत्र, आशा कार्ड, विकलांगता प्रमाण पत्र, राज्य स्तरीय एथलीट प्रमाण पत्र, बेटी का विवाह पंजीकरण प्रमाण पत्र, बेटी का जन्म प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र और वर-वधू दोनों की फोटो शामिल हैं।

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के लिए आवेदन करने के लिए, पात्र उम्मीदवारों को SSO पोर्टल (sso.rajasthan.gov.in) के माध्यम से अपने आवेदन ऑनलाइन जमा करने होंगे आवेदन करने से पहले, आवेदकों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उनके पास सभी आवश्यक दस्तावेज तैयार हैं।

SSO पोर्टल पर लॉग इन करने पर, आवेदकों को SJMS SMS आइकन पर क्लिक करना होगा और फिर मुख्यमंत्री कन्यादान योजना लिंक पर जाना होगा दिए गए दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए, आवेदकों को आवेदन पत्र को सही ढंग से भरना चाहिए और आवश्यक दस्तावेजों की स्कैन की गई प्रतियाँ अपलोड करनी चाहिए।

आवेदन व्यक्तिगत रूप से या नज़दीकी ई-मित्र केंद्रों के माध्यम से जमा किए जा सकते हैं। सत्यापन OTP या फ़िंगरप्रिंट प्रमाणीकरण के माध्यम से किया जाता है। एक बार जब सभी जानकारी सही ढंग से भर दी जाती है, तो आवेदकों को फॉर्म जमा करना चाहिए और अपने रिकॉर्ड के लिए एक मुद्रित प्रति रखनी चाहिए।

Mukhyamantri Kanyadan Yojana जाँच करें

सरकारी नौकरियों की सूचना:यहाँ से चेक आउट करें

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

नमस्कार दोस्तों! मुझे पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का 8 साल का अनुभव है। एक प्रतिष्ठित समाचार पत्र में काम करने के अलावा, मैंने एक न्यूज़ पोर्टल में भी 3 साल तक काम किया है, जहाँ मैंने शिक्षा, अपराध, राजनीति, व्यापार, ऑटोमोबाइल, गैजेट और मनोरंजन जैसे विषयों को कवर किया है। अब, मैं तेज़ी से उभरती हुई वेबसाइट GovtVacancyHub.Com पर काम कर रहा हूँ। मैं राजस्थान के एक छोटे से गाँव से हूँ जहाँ मैंने अपनी 10वीं कक्षा तक की शिक्षा पूरी की। बाद में, मैं शहर चला गया जहाँ मैंने अपनी 12वीं कक्षा पूरी की। मैंने अपनी कॉलेज की शिक्षा राजस्थान विश्वविद्यालय से प्राप्त की, जो उत्तर भारत का सबसे बड़ा सरकारी कॉलेज है। हमारा उद्देश्य लोगों तक तथ्यों के साथ सटीक समाचार पहुँचाना है।

Leave a Comment